Internet kaise chalta hai.? ISP kya hai puri information

Internet kaise chalta hai  . . ?

नमस्कार दोस्तों मै आशा करता हु की आप अच्छे होंगे।आप सभी Internet का use करते ही होंगे लेकिन क्या आपको पता है की ये इंटरनेट काम कैसे करता है। इसका source क्या है। तो आज मै आपको इसी की पूरी इनफार्मेशन दूंगा Internet kaise chalta hai

BLOG OBJECTIVE – 

Internet kya hota hai ,  www  kya hota hai  , Internet kaise Chalta hai  ,  Internet Service Provider ,  Tr1  Tr2  , Undersea Cabel kaise kam karti hai.

Post ADD ____________

What is  Internet  –  इंटरनेट क्या है। 

सबसे पहले बात करते है की इंटरनेट होता क्या है।आज हमको कोई भी जानकारी इंटरनेट पर आसानी से कैसे मिल जाती है। Internet एक ग्लोबल नेटवर्क होता है जहा पर आज लाखो computers  आपस में जुड़े है।  यह पूरा सिस्टम world wide काम करता है। इंटरनेट कंप्यूटर का ऐसा electronic system है जहा पर   आप कोई भी information collect कर सकते है और साथ ही उसको सभी के साथ share भी कर सकते है। और आपने  कई बार लोगो को यह कहते हुवे सुना होगा की है, सारा  सिस्टम Online है। इसका बस सीधा सा मतलब है की उसका Computer इंटरनेट से connect है। तो इस तरह आप भी इस बड़ी से Community का हिस्सा बन जाते है। 

आज इंटरनेट के पास यह capability है की उससे आप वह सभी काम कर सकते है जिसमे नेटवर्क की need होती है। 2020 में लगभग  4. 5 अरब से ज्यादा लोग पूरे worldमें  internet का use कर रहे है और यह हमारे पापुलेशन का half है। internet ने आज हम सभी को जोड़ दिया है हम Social media के medium से एक दूसरे से बहुत ही अच्छी तरह से अलग अलग , locations से कम्यूनिकेट कर कर सकते है। हमारे पास Email , है और audio और Video calls के लये Skype जैसे प्लैटफॉर्म्स है।   


What  is World wide web – 

तो अब आपने जान लिया की internet क्या होता है लेकिन  वर्ल्ड वाइड वेब क्या है क्या है। .?

तो चलिए इसके बारे में जानते है ताकि आपको इंटरनेट की वर्किंग और अच्छे से समझ में आएगी। तो इसको WEB  भी कह सकते है। वेब websites  का collection होता है जिसको हम इंटरनेट में visit करते है।  लाखो Websites होती है। जोकि एक जाल सा बना लेती है इसीलिए  इसको web कहा जाता है और यह पूरे वर्ल्ड में फैला हुआ है।  Website  आप इसके बारे में जानते ही होंगे अगर नहीं तो चलिए मै इसको भी बता ही देता हु।  kyuki ap kye yah janna jaruri hai ki  Internet kaise chalta hai

website  is  a collection of images , informative text and filled with many other information .

और आपको किसी website को open करने के लये उसके address की जरुरत होती है। जैसे हर किसी के घर का अपना अलग एड्रेस होता है उसी तरह हर website का का अपना अलग एड्रेस होता है।  जैसे www.monkeyweb.in यह इस वेबसाइट का address है।  

How Internet works  – इंटरनेट कैसे  चलता  है। 

अबतक हमने यह जान लिया की इंटरनेट क्या होता है। website क्या होती है लेकिन अभी भी यह नहीं जाना की internet यह कैसे चलता है तो आइये इसके बारे में और अच्छे से जानते है। 

पूरी दुनिया में इंटरनेट Optical fiber की केबल के जरिये चलता है यहाँ तक की आपके घर के मॉडेम और WiFi से मिलने वाला इंटरनेट भी इन्ही  इन्ही cables से आता है  है। यह Optical Fiber केबल पूरे  दुनिया में समुद्रों के रास्ते हर Country में लगाया गया है। जब भी हम किसी website को इंटरनेट पर खोलते है तब हमारी digital request इसी cables से होते हुवे वह तक जाती है जहा के सर्वर में इस Website का डाटा रहता है। और वह पर आपके request को DNS (Domain Name System) से मैच कराया जाता है उसके बाद  इन्ही Cables से उन website का डाटा server  से हमारे इंटरनेट पर लोड हो पता है। और ये process इतनी बहुत फ़ास्ट होती है। 


लेकिन दोस्तो यह इतना भी आसान नहीं है कुछ और भी Important Factors है जो इसमें काम करते है। तभी ये internet world wide सही तरह से काम कर पता आइये जानते है इसी के कुछ और factors के बारे में। 



ISP (Internet Service Provider) –

Airtel , Jio  Voda phone   आप इनको  तो बहुत अच्छे से जानते होंगे। और बिलकुल क्युकी आपके फ़ोन में इसमें से किसी न किसी का sim card लगा ही होगा जिससे आप internet use कर पा रहे लेकिन आप सोच रहे होंगे मैंने बोला इंटरनेट cable से चलता है तो इसमें इन providers का क्या काम होता है। ..?


हा दोस्तों  बिलकुल इंटरनेट country तो country Submarine Optical Fiber Cable से पहुँचता है। लेकिन country के अंदर क्या। इसके बाद का काम इन्ही Service Providers का होता है।  आप जगह पर इन कंपनियों के टावर्स देखे ही होंगे हम जब भी इंटरनेट पर कुछ सर्च करते है तो ये रिक्वेस्ट सबसे पहले हमारे उस सर्विस provider के पास जाती है जिसका हम net use कर रहे होते है। और फिर वो सर्विस प्रोवाइडर  आपकी इनफार्मेशन को चेक करता है और उसके बाद वह आपके रिक्वेस्ट को cables के through उस सर्वर तक  भेजता है जहा से आपको अपना डाटा दिया जा सके। Internet kaise chalta hai


अगर हम अपने देश India की बात करे दोस्तों तो हमारे यहाँ अपर दो मुख्य जगह पर इन Optical cables से request भेजी जाती है एक तो महारष्ट्र से और दूसरा चेन्नई से।  अच्छा अगर आप कोई ऐसी वेबसाइट use करते है जिसका server इंडिया में ही है तो सर्विस प्रोवाइडर आपके रिक्वेस्ट को अंदर ही अंदर यही के सर्वर तक आपको पंहुचा देते है। उसको Cable से बाहर भेजने से आपका टाइम भी ज्यादा लगेगा और कभी कभी कुछ जानकारिया जैसे आपके आधार card की ही इन्फोर्मशन हम अगर इन Cable से  हम इन data को शेयर करेंगे तो यह हमारे लिए ही प्रॉब्लम generate कर सकता है।   

 

 

Level of ISP – 

तो दोस्तों अगर हम बात करे ISP की तो इसकी mainly तीन लेयर होती है जिसके base पर इसकी पूरी Process चलती है मै आपको पूरी information दूंगा की ISP kaise kam karti hai


Tier 1 – 

  यह पहला लेयर होता है और यह world wide होता है यानि यहाँ से सभी देशो तक internet पहुचाने की प्रोसेस होती है इसके बिना हम एक अच्छे Internet की imagination भी नहीं कर सकते है बहुत सी बड़ी बड़ी कंपनी इस कम को करती है अगर भारत की बात करे तो हमारे india में Reliance कंपनी ने यह कम कर रखा है और यही जल्द ही वह अपन 5G नेटवर्क लांच करने वाले है और यह सब इसी के कारन आसानी से possible हो पाया है

जैसे – Tata Communication , AT  etc

Tier 2 –

यह second लेयर की तरह होती है जहा और यह किसी Country के अन्दर कम करती है और जो एक city से दुसरे city को internet से जोड़ने का कम करती है आप इसनी कंपनी के sim कार्ड use करते है internet का use करने के लिये ये कुछ कंपनी इस तरह है

जैसे – एयरटेल , Jio , VI


Tier 3 –

 ये कुछ प्राइवेट कंपनी होती है जो Tier – 2 से internet सर्विसेज को लेती है और प्राइवेट नेटवर्क्सके फॉर्म में हमको प्रोविडे कराती है जैसे – Broadband

What is VI   ( VI क्या है )  – 

आज सभी इसके बारे में adds देख रहे होगे और आप इसको जानने को उक्सुक भी होगे की ये VI आखिर है क्या तो दोस्तों मै बताता हु आप तो जनते ही होगे की Vodaphone और Idea दोनों ही India ही एक बड़ी Telecom कंपनी में से एक है लेकिन पिछले कुछ समय से ये सही तरिके से काम नहीं कर पा रहे है लेकिन in कंपनी ने अपनी Rebranding  (VI)  से करते हुवे दुबारा से वापसी करी है

 

 

 

how do undersea  Cable works 

www.monkeyweb.in

आपका इंटनेट तो चल गया अब बस ये बात और जानने को बचती है की है की  इन समुद्र  में घुस कर  ये Optical Cable लगाता कौन है। इस काम को जो करती है उनको हम  TR 1 company कहते है।  यह कंपनी  अपनी इन्वेस्टमेंट से Cables को लगवाती है। और फिर इन Cable का use करके हमतक इंटरनेट पहुंचने वाले service provider को TR 2 कंपनी कहते है। 



क्या इंटरनेट फ्री है  नहीं ऐसा बिलकुल नहीं है TR 1 जब Cable समुंद्र में बिछाती है तो वैसे तो इन Cable की आगे 20 से 25 साल तक होती है लेकिन  कभी कभी ये केबल ख़राब भी हो जाती है या फिर किसी शार्क की bite बन जाती है। लेकिन यहाँ पर Cable का ऐसा Alternative बनाया गया है की आपका डाटा slow हो सकता है लेकिन वह आप तक जरूर पहुंचेगा तो अगर अगली बार आपका इंटरनेट थोड़ा स्लो चले तो आप Service Provider की जगह शार्क को blame करियेगा। 





Final word – 

मै आशा करता हु दोस्तों की आपको मेरी यह पोस्ट  Internet kaise chalta hai.? ISP kya hai puri information अच्छे लगी होगी इसको पढ़ने के बाद आपको यह समझ में आ गया होगा की आप इंटरनेट को आने में कितने जगह से होकर आना पड़ता है।  पूरा पढ़ने के लये Thanxx 

Post ADD ____________

Deo abhinav srivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *