Top 5 programming languages in hindi 2020

Top 5 programming Languages

hello दोस्तों  www.monkeyweb.in के इस नये blog  Top 5 programming languages in hindi 2020 में आपका स्वागत है आज मै आपको बताऊंगा Top 5 Programming Languages के बारे में जो आपको जरुर से सीखना चहिये

आजकल सभी लोग Computer  का इस्तमाल कर रहे है Top 5 programming languages in hindi 2020 की जानकारी होनी जरुरी है चाहे फिर  किसी से बात करने के लिये Social Media का use हो या फिर किसी Software से किसी बड़ी business  problem को Solve करना हो Computer के इस्तमाल से हम ये आसानी से कर सकते है तो अगर आप Computer के Field से नहीं है  लेकिन अगर अगर आप इस field में आना चाहते है तो ये आपके लिये एक अच्छा मौका होग लेकिन इसके लिये आपको  जिसके बाद में ही आप कुछ कर सकते है और दोस्तों jis तरह आज Computer Science की Filed Develop होती जा रही है ठीक उसी तरह आजकल नयी नयी Programming language का भी विकास होता जा रहा है 

 

Blog Objective – 

Python programming language –

Java Programming Language – 

java Script Scripting language – 

Swift programming language – 

GO programming  Language – 

Top 5 programming languages in hindi 2020 –

आज के इस develop world में 600 से भी जादा प्रोग्रममिंग language available है और आपके लिये सभी language को सीखना possible नहीं होगा और मै जनता हु हर नये प्रोग्रामर के Mind में ये Question जरुरु से आता होग की मै किस Programming language से programming सीखना  start करू जो आपके लिये Job Oriented हो तो आप इसके बारे में बिलकुल भी परेशान ना हो क्युकी आज मै आपको बताऊंगा Top 5 programming languages in hindi 2020 के बारे में जो आपके Software Development से लेकर सभी website making में  बहुत जादा useful होने वाली है जो  आपके  Computer Field में Grow करने में बहुत helpful होगी तो आप मेरे इस blog Top 5 programming languages in hindi 2020  को पूरा पड़े जिसमे मै सारे Topic को Cover करूँगा 

                                 PYTHON –  

PYTHON
 

Python  programming language आजकल बहुत ज्यदा use होने वाली एक High – Level programming language है जो आपको सीखना ही चहिये Python को web Application Development ,Machine Learning, Data Analysis और Network Servers जैसे  fields में  use किया जाता है  इसको 1991 में Guido van Rossum ने develop किया था Python programming को इस तरह design किया गया है एक Beginnerके लिये इसको सीखना बहुत ज्यदा आसान  हो जाता है पाइथन में Code Readability पर Focus किया गया है जिसके कारण पाइथन में प्रोग्रममिंग करते समय इसके code को समझने के लिये  आपको बहुत  प्रॉब्लम नहीं होती है लेकिन अगर आप Java जैसी Programming language से start करते है तो आपको ये समस्या उसके साथ हो सकती है और साथ ही यह एक Interpreted भी है इसका मतलब इसमें लिखे गय code को यह line by line compile करती है

 

Post ADD ____________

Python की  बहुत बड़ी Community जो आपको एक अच्छा Support देती है Python में web development करने के लिये आपको Django और Flask जैसी Libraries available है जिसके help से बहुत सी Popular website design की गई है जैसे की Instagram , Spotify और साथ ही आपको इसमें Numpy , Scipy जैसे packages  भी है जिसके use से आप data analysis और Machine Learning को आसानी से समझ सकते है Python में और भी Libraries जैसे  – TensorFlow ,ScikitLearn  और OpenCV है जिसका use Data science , Image Detection में किया जाता है to ap jan gay hoge ki Python kya hai 

 

Also Read –     How to Learn Machine Learning

Pros and Cons of Python programming language     

तो आइये मै आपको python programming language के कुछ advantages और  कुछ loss  या limitations के बारे में बता देता हु ताकि आप इसको और भी अच्छे से समझ सके

 

                                                Pros –  

Syntax readability –     पाइथन programming language की सबसे अच्छे क्वालिटी इसकी readability जिसकी वजह से ज्यदातर  Developers python में कोडिंग करना पसंद करते है इसके Syntax दुसरे programming language के मुकाबले काफी छोटे होते है जिसके developers को Project built करने में काफी मदद मिलती है

 

Open Source –   python एक ओपन source प्रोग्रममिंग language है जिसका मतलब आप इसको कही से भी आसानी से Download कर सकते है or इसके लिएआपको किसी तरह के पैसे नहीं देने होते है आप इसमेंआसनी से code करना start कर सकते है

 

`                                              Cons – 

Speed –  जैसा की हम जानते है की पाइथन एक Interpreted programming language है जिसके कारण कभी कभी यह programe को execute करने में time le लेता है jis कारण  से यह और दूसरी Programming language से slow हो जाता है 

 

Mobile environment –   तो दोस्तों अगर हम mobile Computing कि बात करे तो बहुत से developers के अनुसार Python इसके लिये perfect नही है और हम इससे Mobile app development par kam nahi kar sakte lekin ispar abhi chal raha hai sahayd future me aisa possible ho sakte

 

 

                                JAVA –

java  एक Object-Oriented Programming language है जिसको Sun Micro Systems ने Develop किया था और इसको 1995 में launch किया गया था जावा सभी Operating Systems Windows , Linux , Mac आदि पर आसानी से work करती है जावा के code कुछ तरह C programming language के तरह होते है और जावा में लिखे गए program को किसी भी दुसरे Os पर आसानी से चला सकते है जावा एक पुरानी language है लेकिन  बहुत से जगह जैसे – Banking Sector , Retail , Information Technology , Software Development  जैसे जगहों पर  आज भी जावा के बने Software काम में लिये जाते है तो अगर आप एक developer बनना चाहते है तो आपको यह programming language सीखना ही चाहिय market में आज भी जावा programming language में बहुत से काम होते रहते है तो चलिये मै आपको java  programming language की कुछ और प्रॉपर्टीज के बारे में आपको बता देता हु

 

Security  –  Java programming language की security दूसरी  प्रोग्रममिंग language के मुकाबले काफी अच्छी है इसिलए इससे बने software banks में use किये जाते है. आप जब java में कोई program बनाते है और उसको Compile कराते है तो यह उसको byte Code में Convert कर देता है यह एक तरह का ऐसा code होता है जिसको Humans  read नहीं कर सकते है

 

Portable –  जावा एक Platform Independent प्रोग्राम्मिंग लैंग्वेज है अर्थात इसमें एक बार program लिख देने के के बाद हम उस program को किसी भी दुसरे platform पर आसानी से run करा सकते है इसके लिये बस उसका byte code generate होन चाहिए

 

Distributed –  java  में हम Distributed  Programs भी बना सकते है जिसक हम नेटवर्क आदि पर भी आसानी से run सकते है जावा प्रोग्रममिंग में इस तरह के program बनाने के लिये java.net जैसे package होते है   

 

Dynamic –   जावा का code किया गया program dynamic होता है यानि की अगर program के Run time में इसको किसी तरह मेमोरी या किसी तरह की requirement हवी तो यह Class , Library या फिर कोई new method से आसानी से खुद ही link हो जाता है ताकि हमारा program सही से run हो जाये 

 

Multi Threaded –  जावा में एक सबसे अच्छी बात यह है की की java me Multi threading  hoti hai यानि की हम किसी particular task को करने के लिये हम अलग – अलग thread बना सकते है जावा में  java.lang package के अन्दर thread Class पाई जाती है यह एक multitasking कम होता है जहा पर किसी `program के अलग – अलग threads को एक ही साथ एक ही time manner में Run कराया जा सकता है.  

 

 

                             Java Script – 

JAVA SCRIPT

Java Script एक multitasking programming language है जिसको Brendan Eich ने  design किया था जो आपको एक Interactive webpage design करने में help करते है यह phali ऐसी language है जिसकी help से आप किसी website के Fornt End और Back End दोनों के ही कम बहुत आसानी से कर सकते है जहा Html and Css किसी website को एक Frame देते है वही javascript की help से आप उसमे Hover effect और Event Buttons और Animations create कर सकते है इसका use Scripting के लिये भी किया जाता है इसको Scripting language भी कहा जाता है किसी भी developer के लिये Javascript काफी useful रहती है java Script में बहुत सी Libraries है जो javascript में program बनाने में बहुत मदद करती है 

 

इसमें आपको  Electron और Cordova जैसे Framework भी मिलते है जिससे बहुत सी useful  web application बनाई जा सकती है वैसे तो इस language के use से web based application ही बनाई जाती है लेकिन Java Script का use software development और Server application बनाने के लिये भी किया जाता है और हां दोस्तों Game development करने के लिये भी इस language का बहुत use किया जाता है तो अगर आप Game development की field में अपना Carrier बनाना चाहिए तो Top 5 programming language में आप Java Script sikhna start कर सकते है

 

 

Pros and Cons of  Java Script  –

आपने java Script के बारे में काफी कुछ जान लिया होग और अब मै आपको इसके कुछ pros और Cons भी बतादु जिससे आपको इसके बारे में और भी अच्छे से जानकारी मिल जायगी

 

                                                 Pros – 

Fast working –  जैसे के हमने पहले बात की javascript  को हम Client side or Server side दोनों के लिये use कर सकते है इसिलए आपको किसी तरह के external सर्वर support की जरूरत नहीं होती है और साथ ही इसमें हमको program को किसी भी तरह से compile भी नहीं करना padta जिससे हमारा program जल्दी executeहो जाता है और हमारा time save हो जाता है 

 

Versatility –   हम  बहुत सी Simple और useful language है इसको आप किसीदूसरी programming language के साथ आसानी से merge करके काम कर सकते है 

 

                                                 Cons – 

Browser  Problem –   Java Script  को use करने के लिये हम किसी न किसी Browser का use करते ही है ऐसे में यदि उसको Disable कर दिया जाय तो अपक Java Script का program work नहीं करता है 

 

Tips : 

अगर आप java script में code कर रहे है और आपका code सही है लेकिन वो सही से work नहीं हो रहा है तो आप अपने Browser में java script disable  की setting सही कर ले 

 

Alternative –    आजकल जिस तरह  technology develop हो रही है wase wase developer की requirement के अनुसार language भी आ रही है और java script एक पुरानी scripting language  है लेकिन इसके JQUERY जैसे  alternatives  भी आ गए है जो  developer को काफी पसंद आ रहे है  

 

 

                                  SWIFT –

                                SWIFT

 यह एक latest multipurpose programming language  जिसको 2014 में Chris Lattner   के दुवरा develop किया गया है इस programming language को C languae के base पर बनाया गया है इसको बानने का main purpose apple के IOs Applicaton, MacOS Appication और tvOs Applications जैसे जितने भी apple  की app है को सही तरह से maintain करने के लिये किया गया था यह एक modern  programming language है इसिलए इसको बहुत  Convenient तरिके से design किया गया है इसमें Syntax को पड़ने में आसानी होती है यह एक Open Source language है और इसको सीखना भी आसान है 

 

Pros and  Cons of Swift Programming Language – 

 

                                                Pros – 

Open Source –    यह एक Open Source programming language है यानि इसको हर कोई use कर सकता है यहाँ पर अगर आपको किसी तरह की Coding में problem हो रही है तो आपको  Swift के तरफ से support दिया जाता है यही कारन है की लोग इस modern प्रोग्रम्मिग language को पसंद कर रहे है 2014 में ये launch हवी थी और 2015 में इसको सभी के लिये Open source कर दिया गया था

 

Fast Process –     swift प्रोग्रामिंग language सिखने में जितनी आसान है उसकि प्रॉपर्टी भी उतनी अच्छी है इसमें बनाया गया program काफी fast प्रोसेस्स करता है अगर हम दूसरी language सी इसकी Compression करे तो पाइथन जैसे language से ये 8.4x faster है और यह c से भी 4x faster response करती है

 

Readable  Syntax –    swift एक light programming language है इसमें आपको code को read करना बहुत सिंपल होता है दूसरी programming language जैसे की c या java के compare से  इसका syntax readable  है 

 

                                                 Cons – 

Compatibility Issue –    Swift programming language wase तो light programming language है लेकिन इसमें भी कुछ problems आती है जैसे अगर अपने Swift के 1.0 या 2.0 versions में कोई code लिखा है तो वह code Swift के latest version के लिये Compatible नहीं होग हलाकि Swift अपने आने वाले version में काफी  काम किया है जिससे आप ये प्रॉब्लम नहीं आइएगी

 

New Born Language –     जैसा की हम सभी जानते है की Swift programming language को Apple अपने application के लिये develop किया था or बाद में इसको 2015 में Open source कर दिया था ऐसे में ये एक नई language है इसी करना से इस language की Community python जैसी language की तरह बड़ी नहीं है

 

 

                                  GO

                                www.monkwyweb.in

तो दोस्तों अब मै आपको बताऊंगा Go  programming language kya hai  ये market में एक नई programming language है जसको Google के दुवरा 2007 में develop किया गया है और इसके developer थे Robert Griesemer Go एक static type Compiled language है इस programming technique कुछ हद तक c language की तरह ही है इस language को हम golang के नाम से जानते है और reason इसके website का नाम golang.org है यहाँ Go programming language में garbage Collector भी  है

 

Pros and Cons of Go Language –    

 

                                            Pros – 

Easy to Learn –   Go programming language के syntax बहुत easy है इसके syntax python programming language की तरह  ही easy जिसको read करने के लिये आपको बहुत जादा Time waste करने की जरुरत नहीं  है अगर आप  एक beginner है तो भी आप इस programming language से start कर सकते है

 

Speed –   Go programming language को C के base पर design किया गया है इसिलए यह program को Machine code में compile करती है जिस्से इसमें रन होने वाले program की Speed बढ जाती है 

 

Garbage Collection –  तो दोस्तों अगर आपने इससे पहले C जैसी language में कोडिंग करी है तो आपको पता होगा की garbage collector किस तरह work करता है इस language का memory मैनेजमेंट C और c++ जैसी language से काफी अच्छा है 

 

                                            Cons –

Safety Problem –   GO एक सिंपलprogramming language है लेकिन अगर हम इसके security की बात करे तो इस programming language में पूरा focus उसके speed और production par दिया जाता है

 

 

Also Read   –    How to Learn Programming 

 

 

Final word – 

So friends hope You like this blog Top 5 programming languages in hindi 2020  and please Drop your valuable Comments about my blog and Also Share with your Friends be with us for more information |    जय हिन्द

Post ADD ____________

Deo abhinav srivastava

2 thoughts on “Top 5 programming languages in hindi 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *